महाविद्यालय इतिहास

धमतरी क्षेत्र में उच्च शिक्षा के विकास ले लिये महाविद्यालय की आवश्यकता का अनुभव कर आदर्श शिक्षण समिति, धमतरी ने 1963 में नूतन एवं वाणिज्य महाविद्यालय की स्थापना की ! नूतन महाविद्यालय में विज्ञान के अध्ययन की सुविधा न होने के कारण लाल बहादुर शिक्षण समिति, धमतरी ने धमतरी विज्ञान, कला एवं वाणिज्य महाविद्यालय की स्थापना 1968-69 में की ! नूतन महाविद्यालय में अर्थशास्त्र में स्नातकोत्तर की कक्षायें 1972-73 से प्रारंभ हुई ! इन दोनों संस्थाओं को वित्तिय संकट से उबारने के लिये 01 जनवरी 1980 को नगरपालिका परिषद धमतरी ने इन महाविद्यालयों का अधिग्रहण किया ! आगे चलकर म.प्र. शासन, उच्च शिक्षा विभाग ने 09 जून 1981 को इन महाविद्यालयों का अधिग्रहण कर इन्हें एकीकृत किया ! इस प्रकार शासकीय महाविद्यालय धमतरी अस्तित्व में आया !

महाविद्यालय का अपना भवन बनवाने के लिये जोधापुर में 1986 में महाविद्यालय के लिये भूमि आबंटित की गई ! 27.70 एकड की कुल भूमि में से 21.17 एकड नजूय से तथा 6.53 एकड भू-अर्जन व्दारा प्राप्त हुई है ! इस भूमि पर महाविद्यालय भवन का निर्माण कार्य 1987 में प्रारंभ हुआ ! जुलाई 1987 में भूतल का निर्माण पूर्ण हो जाने पर कला एवं वाणिज्य की कक्षायें नये भवन में लगाई जाने लगी ! विज्ञान, गृह विज्ञान एवं विधि की कक्षायें किराये के पुराने भवन में ही चलती रही ! दिसम्बर 1995 में महाविद्यालय को स्नातकोत्तर महाविद्यालय का दर्जा दिया गया ! क्षेत्र के प्रसिध्द स्वतंत्रता संग्राम सेनानी बाबू छोटलाल श्रीवास्तव की स्मृती को अक्षुण्ण बनाये रखने के लिये 1995 में शासन में महाविद्यालय का नामकरण उनके नाम पर किया ! अब यह महाविद्यालय बाबू छोटलाल श्रीवास्तव शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय, धमतरी के नाम से जाना जाता है !

महाविद्यालय में गणित, रसायण शास्त्र, गृह विज्ञान, वाणिज्य, अर्थशास्त्र, राजनीति शास्त्र, भूगोल, हिन्दी एवं इतिहास में स्नातकोत्तर अध्ययन की सुविधा है ! महाविद्यालय में इंदिरा गांधी राष्ट्रीय विश्वविद्यालय (IGONU) भी संचालित है ! जनभागीदारी समिति ने भवन की अपर्याप्तता को दूर करने हेतु फरवरी 1999 में प्रथम तल का निर्माण कार्य पूर्ण कराया ! व्दितीय तल पर निर्माण कार्य नवमीं पंचवर्षीय योजना में यू.जी.सी. अनुदान से तथा दूसरे भाग का निर्माण जनभागीदारी समिति व्दारा 2003 में पूर्ण करवाया गया !

10th Plan (2002-2007) में Girls Hostel UGC एवं जनभागीदारी मद से निर्माण कराया गया ! 2002-2007 में ही 10th Plan UGC मद से लायब्रेरी भवन का निर्माण पूर्ण हुआ ! UGC 11th Plan (2007-2012) में महाविद्यालय भवन के व्दितीय तल में 02 अतिरिक्त अध्ययन कक्ष निर्मित हुआ ! UGC 11th Plan (2007-2012) में Girls Common Room के लिए कुर्सी एवं टेबल क्रय किया गया साथ ही विभिन्न विषयों के विभागों के लिए क्म्प्यूटर एवं प्रिंटर उपलब्ध कराए गए ! इसके अलावा प्रयोगशाया उपकरणों की आपूर्ति भी की गई !